ताज़ा ख़बरविदेश

पश्चिमी अफगानिस्तान में आए सिलसिलेवार शक्तिशाली भूकंप,मरने वालों का आंकड़ा 320 के पार

बताते चलें कि पूर्वी अफगानिस्तान के एक ऊबड़-खाबड़ पहाड़ी क्षेत्र में भी जून 2022 में शक्तिशाली भूकंप आया था। जिसमें पत्थर और मिट्टी-ईंटों के घर जमींदोज हो गए थे।

अफगानिस्तान: पश्चिमी अफगानिस्तान में आए भूकंपों में मरने वालों का आंकड़ा 300 के पार हो गया है।अफगानिस्तान में 6.3 तीव्रता के आए सिलसिलेवार शक्तिशाली भूकंपों में 320 लोग मारे गए हैं। यूनाइटेड स्टेट्स जियोलॉजिकल सर्वे (यूएसजीएस) ने बताया कि भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के सबसे बड़े शहर हेरात से 24.8 मील (40 किमी) उत्तर-पश्चिम में था और इसके बाद 5.5 तीव्रता का झटका आया। जानकारी के मुताबिक, अफगानिस्तान के इन इलाकों में भूकंप के 5 झटके महसूस किए गए। हालांकि यूएसजीएस वेबसाइट पर पोस्ट किये एक नक्शा क्षेत्र में 7 भूकंपों के संकेत मिले है।

लगातार आए भूकंप के कई झटके

गार्डियन की रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिमी अफगानिस्तान में शनिवार सुबह के वक्त करीब 11 बजे भूकंप के झटके महसूस हुए थे। इसके बाद करीब एक घंटे से अधिक समय तक भूकंप के झटके लगातार महसूस होते रहे। भूकंप के झटकों के चलते लोग घरों से निकलकर बाहर की ओर दौड़ पड़े। भूस्खलन और इमारतों के नीचे लोगों के फंसे होने की खबरें आई हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक 45 वर्षीय हेरात निवासी बशीर अहमद ने बताया, “हम अपने कार्यालयों में थे और अचानक इमारत हिलने लगी।” “दीवारों के प्लास्टर गिरने लगे और दीवारों में दरारें आ गईं। कुछ दीवारें और इमारत के कुछ हिस्से ढह गए। उन्होंने कहा, “मैं अपने परिवार से संपर्क नहीं कर पा रहा हूं, नेटवर्क कनेक्शन काट दिए गए हैं। मैं बहुत चिंतित और डरा हुआ हूं, यह भयावह था’। भूकंप आने के बाद कुछ ही क्षणों में महिलाएं और बच्चे ऊंची इमारतों से दूर और चौड़ी सड़कों पर आकर सुरक्षित जगहों पर खड़े हो गए थे।

नक्शा क्षेत्र में मिला 7 भूकंपों का संकेत

यूएसजीएस वेबसाइट पर पोस्ट किया गया एक नक्शा क्षेत्र में 7 भूकंपों का संकेत देता है। जिसमें हेरात के उत्तर-उत्तर-पश्चिम में 21.7 मील की दूरी पर 5.9 तीव्रता का भूकंप, जिंदा जान के उत्तर-उत्तर-पूर्व में 20.5 मील की दूरी पर 6.3 तीव्रता का भूकंप, ज़िंदा जान के उत्तर-उत्तर-पूर्व में 18 मील की दूरी पर 6.3 तीव्रता का दूसरा भूकंप शामिल है, जो हेरात शहर से लगभग 26 मील पश्चिम में है।हेरात निवासी समदी ने कहा, “घर, कार्यालय और दुकानें सभी खाली हैं और अधिक भूकंप आने की आशंका है. सभी लोग अपने घरों से बाहर हैं। मैं और मेरा परिवार अपने घर के अंदर थे, मुझे भूकंप महसूस हुआ।”अफगानिस्तान के आपदा प्रबंधन टीम के प्रवक्ता मोहम्मद अब्दुल्ला जान ने कहा कि भूकंप की चपेट में आकर कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। इसका केंद्र हेरात शहर से 40 किलोमीटर उत्तर पश्चिम में था।

पिछले साल जून में आए शक्तिशाली भूकंप में हुई थी 1000 लोगों की मौत

बताते चलें कि पूर्वी अफगानिस्तान के एक ऊबड़-खाबड़ पहाड़ी क्षेत्र में भी जून 2022 में शक्तिशाली भूकंप आया था। जिसमें पत्थर और मिट्टी-ईंटों के घर जमींदोज हो गए थे। यह भूकंप अफगानिस्तान में दो दशकों में सबसे घातक था जिसमें कम से कम 1,000 लोग मारे गए थे और लगभग 1,500 लोग घायल हुए थे।

Web Khabar

वेब खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button