ताज़ा ख़बरव्यापार

काम की बात: आज से बदल गए कई नियम, देखें कहां मिलेगी राहत और कहां बढ़ेगी आफत

नई दिल्ली। आज महीने का पहला दिन है। महीने के पहले ही दिन नियमों में कई बड़े बदलाव किए गए हैं, जिसमें बैंक, टोल, गैस सिलेंडर और बीमा शामिल हैं। नियमों में किए गए बदलाव का सीधा असर आपकी जेब में पड़ने वाला है दरअसल, टोल टैक्स से लेकर जमीन खरीदने तक के लिए अब आपको ज्यादा खर्च करना होगा। हालांकि बीमा प्रीमियम, एलपीजी सिलेंडर में राहत भी दी गई है। खबर के मुताबिक व्यावसायिक एलपीजी सिलेंडर के दामों में 100 रुपए की कटौती की गई है। आईए विस्तार से जानते हैं कि कहां पर मिलेगी राहत और कहा पर बढ़ेगी आफत…

रसोई गैस की कीमतों में कटौती
हर महीने की पहली तारीख को पेट्रोलियम कंपनियां रसोई गैस की कीमतों में बदलाव करती हैं। इस बार कंपनियों ने ग्राहकों को राहत दी है। रसोई गैस की कीमतों में 100 रुपये की कटौती की गई है। ये कटौती कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में की गई है। 1 सितंबर 2022 से दिल्ली में एक इंडेन के 19 किलो के कमर्शियल सिलेंडर की कीमत में 91.50 रुपये, कोलकाता में 100 रुपये, मुंबई में 92.50 रुपये, चेन्नई में 96 रुपये की कटौती की गई है।

टोल टैक्स पर देना होगा ज्यादा पैसा
अगर आप यमुना एक्सप्रेस-वे के जरिए दिल्ली आते-जाते हैं, तो आज से आपको अधिक टोल टैक्स चुकाना होगा. 1 सितंबर से लागू नई बढ़ोतरी के अनुसार, कार, जीप, वैन और अन्य हल्के मोटर वाहनों के लिए टोल टैक्स के रेट में 2.50 रुपये प्रति किलोमीटर से बढ़ाकर 2.65 किलोमीटर कर दिया गया है. यानी प्रति किलोमीटर 10 पैसे की वृद्धि की गई है.

संपत्ति खरीदने पर चुकाने होंगे ज्यादा पैसे
अब आपको संपत्ति खरीदने के लिए ज्यादा पैसे खर्च करने होंगे। सरकार ने गाजियाबाद का सर्किल रेट बढ़ाने का निर्णय लिया है। सर्किल रेट में 2 से 4 फीसदी तक बढ़ोतरी की गई है। बढ़ा हुआ सर्किल रेट एक सितंबर, 2022 से लागू हो जाएगा।





एजेंटों का कमीशन घटने से बीमा प्रीमियम होगी कम
बीमा नियामक इरडा ने जनरल इंश्योरेंस नियमों में बदलाव किया है। इसके तहत बीमा एजेंट को 30 से 35 फीसदी की जगह अब सिर्फ 20 फीसदी ही कमीशन मिलेगा। इससे लोगों के प्रीमियम में कमी आएगी और उन्हें राहत मिलेगी।

बैंक से कर्ज लेना होगा महंगा
पीएनबी ने कोष की सीमांत लागत आधारित ऋण दरों (एमसीएलआर) में 0.05% की वृद्धि की है। सभी अवधि वाले कर्ज पर लागू होने वाली यह वृद्धि एक सितंबर से प्रभावी है। बैंक ने बताया, एक साल की अवधि के लिए एमीसीएलआर अब 7.70 फीसदी होगी, जो पहले 7.65 फीसदी थी।

एनपीएस के नियमों में हुआ बड़ा बदलाव
एक सितंबर से एक और बड़े बदलाव की बात करें तो यह राष्ट्रीय पेंशन योजना में किया गया है। आज से एनपीएस खाता खोलने पर कमीशन का भुगतान पॉइंट आॅफ प्रेजेंस पर किया जाएगा। ऐसे में यह कमीशन 1 सितंबर 2022 से 10 रुपये से लेकर 15,000 रुपये तक का होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button