बैंक आफ बड़ौदा बनी देश की तीसरी सबसे बड़ी बैंक, देना और विजया बैंक का हुआ विलय



नई दिल्ली। देना बैंक और विजया बैंक का बड़ौदा बैंक में विलय हो गया है। इसके बाद बैंक आफ बड़ौदा देश की तीसरी सबसे बड़ी बैंक बन गई है।


सूत्रों के मुताबिक सरकार ने यह निर्णय बैंकों की कर्ज देने की ताकत उबारने और आर्थिक वृद्धियों को गति देने के लिए लिया है। बैंकों के विलय की घोषणा करते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि इससे बैंक मजबूत होंगे और उनकी कर्ज देने की क्षमता बढ़ेगी।


विलय की वजह बताते हुए उन्होंने कहा कि कई बैंक नाजुक स्थिति में है और इसका कारण अत्यधिक कर्ज तथा फंसे कर्ज (एनपीए) में वृद्धि है। विलय के बाद अस्तित्व में आनी वाली इकाई बैंक गतिविधियां बढ़ाएंगी। बैंक आफ बड़ौदा, विजया बैंक तथा देना बैंक के विलय के बाद बनने वाली नई इकाई का कारोबार 14.82 लाख करोड़ होगा और वह एसबीआई तथा आईसीआईसीआई बैंक के बाद तीसरा सबसे बड़ा बैंक होगा। 

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति