लोकसभा चुनाव 2019: मध्यप्रदेश सहित देश के नौ राज्यों की 56 सीटों पर चुनाव लड़ेगी सपाक्स



भोपाल। सपाक्स पार्टी लोकसभा चुनाव में पूरे दमखम से उतरेगी। पार्टी ने मध्य प्रदेश सहित देश के नौ राज्यों की 56 सीटों से प्रत्याशी उतारने का फैसला किया है। इनमें से 15 सीटें मध्य प्रदेश की हैं। पार्टी ने इसके लिए अखिल विश्व क्षत्रिय महासभा सहित समान विचारधारा वाले तीन सामाजिक और 11 राजनीतिक संगठनों से हाथ मिलाया है। इनके सहयोग से पार्टी संबंधित राज्यों में प्रत्याशी उतारेगी। चुनिंदा सीटों के अलावा अन्य सीटों पर पार्टी सहयोगी दलों का समर्थन करेगी। पार्टी के अध्यक्ष पद के लिए 31 मार्च को चुनाव भी कराए जा रहे हैं।


पार्टी के अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी ने पत्रकारों को बताया कि विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी लोकसभा चुनाव में भी किस्मत आजमाएगी। त्रिवेदी ने दावा किया कि पार्टी की विधानसभा चुनाव की तुलना में अच्छी स्थिति है और वे प्रस्तावित सीटों पर जीत दर्ज कराएगी। इसीलिए मप्र सहित हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, बिहार, झारखंड, उत्तराखंड, नईदिल्ली और कर्नाटक की एक सीट से प्रत्याशी उतारे जा रहे हैं। त्रिवेदी ने अपनी बात दोहराते हुए कहा कि पार्टी जाति के आधार पर आरक्षण के खिलाफ है और इसके लिए लड़ाई जारी रहेगी।


जिला स्तर पर प्रत्याशियों के पैनल तैयार त्रिवेदी ने बताया कि प्रदेश की 15 संसदीय सीटों से उतारने के लिए प्रत्याशियों के चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। पार्टी की जिला समितियों ने पैनल तैयार कर लिए हैं। इनमें से योग्य प्रत्याशी को टिकट दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मंडला से रामसिंह परस्ते का नाम तय हो गया है। पार्टी के सहयोगी संगठन अखिल विश्व क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जोगिंदर सिंह भदौरिया ने बताया कि केंद्र सरकार ने आरक्षण पर 200 प्वाइंट का रोस्टर जारी किया है। इसके तहत बैकलाग के पदों पर उसी वर्ग के लोग लिए जाएंगे। इससे गुणवत्ता खराब होगी। इसके खिलाफ 15 मार्च को देश बंद का आह्वान किया गया है। 

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति