सुनंदा पुष्कर मौत : BJP नेता स्वामी की याचिका का थरूर के वकील ने किया विरोध



नई दिल्ली। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट की विशेष अदालत में बृहस्पतिवार को सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले की सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान शशि थरूर के वकील विकास पाहवा और दिल्ली पुलिस ने भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी की उस याचिका का विरोध किया, जिसमें उन्होंने मांग की थी कि पुलिस को विजिलेंस जांच रिपोर्ट पेश की जाए। इससे पहले एक नवंबर (शनिवार) को सुनवाई टल गई थी। शशि थरूर के वकील के अदालत में मौजूद नहीं होने के चलते सुनवाई टालनी पड़ी थी, इसके बाद सुनवाई के लिए छह दिसंबर की तारीख तय हुई थी।


बता दें कि 3 नवंबर को हुई पिछली सुनवाई में विशेष अदालत ने सुनंदा पुष्कर मौत मामले से जुड़े दस्तावेजों की प्रति आरोपी पक्ष को देने का आदेश दिया था। आरोपी पक्ष की ओर से कहा गया था कि पुलिस ने जो दस्तावेज पहले दिए थे, उनमें से कुछ की हालत ठीक नहीं है। इस कारण दस्तावेज फिर से दिए जाएं। जवाब में पुलिस की ओर से कहा गया कि जल्द ही दूसरी प्रति मुहैया करा दी जाएगी।


जांच के लिए कुछ समय चाहिए इससे पहले हुई सुनवाई के दौरान पुलिस ने कोर्ट को बताया था कि केस से संबंधित सभी गवाहों के बयान, कागजी और इलेक्ट्रॉनिक सबूतों की प्रति आरोपी पक्ष को सौंप दी गई है। इस पर आरोपी सांसद शशि थरूर के वकील ने कोर्ट में कहा था कि उन्हें दस्तावेजों की जांच के लिए कुछ समय चाहिए। बता दें कि 17 जनवरी, 2014 को दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में हुई सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में पहले अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज हुआ था। आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दिल्ली पुलिस ने एक जनवरी, 2015 को हत्या का केस दर्ज किया था, लेकिन हत्या के कोई सबूत नहीं मिले थे। फिर तकनीकी जांच के आधार पर आइपीसी की धारा 306 यानी आत्महत्या के लिए उकसाने और 498 ए यानी प्रताड़ित करने की धाराओं के तहत शशि थरूर के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया था।

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति