तबादलों पर नेता प्रतिपक्ष की शिकायत के बाद सरकार की सफाई, कहा- नहीं हुए बैकडेट में स्थानांतरण



भोपाल। तबादलों को लेकर भाजपा और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव की शिकायत का सामान्य प्रशासन विभाग ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को जवाब दे दिया। इसमें साफ कहा गया कि बैकडेट में कोई तबादले नहीं किए गए


स्थानांतरण नीति का पूरा पालन किया गया है।


सिर्फ नामदेव दास त्यागी उर्फ कंप्यूटर बाबा को नदी न्यास का अध्यक्ष बनाए जाने के आदेश में लिपिकीय त्रुटि से आदेश में तारीख गलत हो गई थी, जिसे संशोधित भी कर दिया गया था।


भाजपा के प्रतिनिधिमंडल और नेता प्रतिपक्ष ने तबादलों को लेकर सरकार पर कई आरोप लगाए थे। भार्गव ने कहा था कि तबादलों पर प्रतिबंध होने के बावजूद धड़ल्ले से तबादले आदेश निकाले जा रहे हैं।


आचार संहिता लगने के बाद भी बैकडेट में तबादले किए जा रहे हैं। निशांत वरवड़े का तबादला होने के बाद भी वे पद पर बने हुए हैं। इन शिकायतों पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय से सामान्य प्रशासन विभाग से रिपोर्ट मांगी थी, जो गुरुवार को मिल गई। इसमें विभाग ने नियमों का उल्लंघन किए जाने के आरोप को सिरे से खारिज किया है। अब विभाग के जवाब का परीक्षण करने के बाद मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय आगामी कार्रवाई को लेकर निर्णय करेगा। 

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति