होम राज्य
after-recovering-from-financial-crisis-the-state-g

वित्तीय संकट से उबरने आबकारी के बाद प्रदेश सरकार की नजर माईनिंग क्षेत्र पर

सरकार ने स्थानीय स्तर पर रोजगार के मौके पैदा करने और रेत माफियों से मुक्ति के लिए पंचायतों को खदान देने की नीति बनाई थी। कांग्रेस सरकार बनने के बाद जब इस नीति के असर को देखा गया तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ कि इससे लाभ होने की जगह नुकसान हुआ है। ग्रामीण स्तर पर न तो पंचायतों को लाभ हुआ और न ही रोजगार के मौके पैदा हुए। रेत के दाम भी कम नहीं हुए, जिसका दावा किया गया था।  आगे पढ़ें

madhya-pradesh-meetings-on-candidates-for-selectio

मध्यप्रदेश: कांग्रेस में प्रत्याशी चयन को लेकर बैठक टली, अब शुक्रवार को होगा मंथन

मुख्यमंत्री कमलनाथ के रात को दिल्ली देर से पहुंचने और प्रभारी सचिवों में से भी कुछ ही उपलब्ध हो पाने से बैठक टाल दी गई। गुरुवार को होने वाली स्क्रीनिंग कमेटी की महत्वपूर्ण बैठक में चार प्रमुख शहरों सहित पांच सीटों को छोड़कर अन्य सभी सीटों पर एक बार फिर से चर्चा होने की संभावना है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर और विदिशा लोकसभा क्षेत्रों के प्रत्याशी तय करने के लिए अधिकृत किए जाने के संकेत हैं।  आगे पढ़ें

digvijay-will-present-the-election-of-sapaks-hiral

दिग्गी को चुनाती पेश करेंगे सपाक्स के हीरालाल त्रिवेदी, बैठक में फैसला

माना जा रहा है कि दिग्विजय सिंह भोपाल या इंदौर से चुनाव लड़ सकते हैं। ऐसे में सपाक्स के अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी उनकी सफलता में रोड़ा बनने की कोशिश करेंगे। दरअसल, ऐसा कर पार्टी अपने गुस्से का इजहार करना चाहती है, क्योंकि दिग्विजय सिंह के कार्यकाल में ही मध्य प्रदेश में आरक्षण विधेयक पारित किया गया था और उसके बाद ही सामान्य, पिछड़ा वर्ग के अधिकारियों और कर्मचारियों की तरक्की के रास्ते बंद हो गए। इसे देखते हुए समन्वय समिति ने इस चुनाव में दिग्विजय सिंह के खिलाफ पूरी ताकत झोंकने का इरादा कर लिया है।  आगे पढ़ें

bhopal-seat-should-not-be-scared-outsiders-should-

भाजपा में भोपाल सीट को लेकर मचा घमासान, नहीं चाहिए बाहरी प्रत्याशी

बाहरी नेता को भोपाल से टिकट दिए जाने के खिलाफ राजधानी के नेता लामबंद हो गए हैं। सारे नेताओं ने एक साथ मिलकर तय किया कि बाहरी प्रत्याशी पार्टी ने थोपा तो वे विरोध करेंगे। इस अवसर पर गौर ने कहा कि टिकट पर पहला हक सांसद आलोक संजर का है। इसके बाद फिर महापौर आलोक शर्मा का हक बनता है। उन्होंने कहा कि पार्टी टिकट देगी तो मैं भी चुनाव लड़ने के लिए तैयार हूं। उधर, पूर्व सीएम गौर की चौरसिया समाज के प्रतिनिधिमंडल के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात भी हुई। इसे गौर ने गैर राजनीतिक बताया। इस दौरान नाथ और गौर की एकांत में दस मिनट चर्चा भी हुई। गौर ने कहा कि दमोह में देवेंद्र चौरसिया के आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से समाज नाराज है।  आगे पढ़ें

diggi-approves-gaur-challenge-boley-aag-ground-que

दिग्गी ने गौर चुनौती स्वीकारी: बोले- आ जाएं मैदान, सवाल क्या पार्टी टिकट देगी!

कांग्रेस के बड़े नेता से लेकर नवाब साहब तक हार चुके हैं। भोपाल से जीतना यानी लोहे के चने चबाना होगा। दिग्विजय सिंह ने खुद के चुनाव लड़ने के बारे में कहा कि पार्टी जहां से चुनाव लड़वाएगी, वहां से मैदान में उतरने के लिए वे तैयार हैं। पूर्व मुख्यमंत्री सिंह ने भाजपा नेताओं द्वारा के नाम के साथ चौकीदार शब्द के इस्तेमाल किए जाने पर कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का नाम ई-टेंडर और व्यापमं घोटाले में आया है, इसके अलावा राफेल डिफेंस घोटाले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम आ रहा है। इसके बाद भी खुद को चौकीदार कहते हैं तो यह चौकीदार का अपमान है। उन्होंने आरोप लगाया कि राफेल में सरकार ने खरीदी प्रक्रिया से समझौता किया है।  आगे पढ़ें

bonus-points-will-be-found-in-mathematics-of-10th-

प्रश्न पत्र में गड़बड़ी होने से 10वीं के गणित और 12वीं सामान्य अंग्रेजी में मिलेंगे बोनस अंक

12वीं के सामान्य अंग्रेजी के प्रश्न पत्र के निर्देश में प्रश्न क्रमांक 12 में कुल सात प्रश्न करने थे, प्रत्येक प्रश्न दो-दो नंबर के थे, लेकिन निर्देश में लिखा था कि 'आंसर एनी टू आफ द फॉलोइंग क्वेश्चन"। इससे विद्यार्थियों ने दो प्रश्न हल कर सभी अन्य छोड़ दिए। गड़बड़ी सामने आने के बाद मंडल का कहना है कि जिन विद्यार्थियों ने दो प्रश्न हल किए होंगे, उन्हें भी 14 अंक बोनस के रूप में मिलेंगे और जिन्होंने सात प्रश्न हल किए हैं उन्हें भी पूरे अंक मिलेंगे।  आगे पढ़ें

there-is-a-village-in-madhya-pradesh-where-there-i

मध्यप्रदेश में एक गांव ऐसा, जहां नहीं जलाई जाती होली, माता के रुष्ट होने का है डर

यह गांव फोरलेन हाईवे पर देवरीकला ब्लाक मुख्यालय से करीब 10 किमी दूर घने जंगल में बसा हुआ है। इसी गांव में झारखंडन माता का प्रसिद्ध मंदिर है। गांव के गोपाल ठाकुर(65), सुखराम ठाकुर(45) और उप सरपंच कोमल ठाकुर(40) सहित अन्य ग्रामीण बताते हैं कि उन्होंने अपने जीवनकाल में यहां कभी होली जलती नहीं देखी और बुजुर्गों से सुनी मान्यता का पालन करते हुए हमने भी कभी होली जलाने का प्रयास किया।  आगे पढ़ें

young-voters-in-madhya-pradesh-will-decide-which-p

मध्यप्रदेश में युवा मतदाता तय करेंगे किस पार्टी के सिर पर होगा जीत का सेहरा

प्रदेश में युवा मतदाताओं की संख्या कुल मतदाताओं में आधे से भी ज्यादा है। 20 से 39 साल के मतदाताओं की संख्या सर्वाधिक दो करोड़ 69 लाख से ज्यादा है। 18 से 19 साल के मतदाता भी 13 लाख 60 हजार से अधिक हैं। यह संख्या अभी और बढ़ेगी, क्योंकि नामांकन दाखिले की अंतिम तारीख से दस दिन पहले तक नाम जुड़ने का सिलसिला चलता रहेगा। प्रदेश में कुल पांच करोड़ 14 लाख 67 हजार 980 मतदाता हैं। इनमें 65 हजार 960 सर्विस वोटर भी शामिल हैं। आयु समूह के हिसाब से देखा जाए तो सबसे ज्यादा मतदाता 20 से 29 साल के हैं। इनकी संख्या एक करोड़ 37 लाख 79 हजार 535 है। इसके बाद 30 से 39 साल के मतदाता आते हैं, जिन्हें युवा की श्रेणी में रखा जाता है।  आगे पढ़ें

sadhna-singh-from-vidisha-to-start-the-election-su

विदिशा से साधना सिंह को चुनाव लड़ाने के लिए समर्थकों ने शुरू लॉबिंग, सुषमा-राजनाथ से मिले

भाजपा केंद्रीय नेतृत्व के सूत्र बताते हैं कि सुषमा स्वराज के चुनाव लड़ने से इनकार करने के बाद विदिशा जैसी आसान सीट पर किसी वरिष्ठ नेता को मैदान में उतारा जाएगा। यह बाहरी भी हो सकता है। इसका कारण यह है कि मध्यप्रदेश की विदिशा सीट से ज्यादा आसान सीट भाजपा के पास दूसरी नहीं है। यह सीट भाजपा का गढ़ है। साधना की दावेदारी जताने का मामला पहली बार नहीं हुआ है। इसके पहले भी 2006 के उपचुनाव, 2009 और 2014 में भी शिव समर्थक साधना सिंह को टिकट दिलाने के लिए जोर लगाते रहे हैं।  आगे पढ़ें

madhya-pradesh-high-court-transferred-130-judges

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने 130 जजों के किए तबादले

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने 4 मुख्य न्यायिक दंडाधिकारियों/ अतिरिक्त मुख्य न्यायिक दंडाधिकारियों व 126 व्यवहार न्यायाधीशों के तबादले कर दिए। इनमें शैलेश भारती शिवपुरी से झाबुआ,ऊषा तिवारी बेड़िया राजगढ़ से सागर, राधाकिशन मालवीय झाबुआ से शिवपुरी और पद्मा जाटव को सागर से राजगढ़ भेजा गया है।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति