सीओए के इस सदस्य ने की डब्ल्यू वी रमन को अंतरिम कोच बनाने की मांग, जानिए ये है कारण



सिडनी। बीसीसीआइ की प्रशासकों की समिति (सीओए) के दो सदस्यों में से एक डायना इडुल्जी ने अन्य सदस्य विनोद राय को पत्र लिखकर डब्ल्यूवी रमन के भारतीय महिला क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के रूप में नियुक्त करने को लेकर कई सवाल उठाए हैं। साथ ही उन्होंने उसमें बदलाव की मांग की है। इनमें रमन को अंतरिम कोच बनाना और क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) को नए सिरे से पूर्णकालिक कोच की तलाश करना प्रमुखता से शामिल है।


रमन को 20 दिसंबर को मुख्य कोच नियुक्त किया गया था और वह इस महीने के अंत में टीम के साथ न्यूजीलैंड के दौरे पर जाएंगे, लेकिन इडुल्जी चाहती हैं कि वह अपने पुराने अनुबंध पर राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के बल्लेबाजी कोच के रूप में दौरे पर जाएं। विनोद राय को भेजे गए ईमेल में इडुल्जी ने लिखा कि पहले सीईओ और खुद आपने एक व्यक्ति के लिए समयसीमा में बदलाव किया था, जो अंतत: पुरुषों की टीम का मुख्य कोच बना। फिर ऐसा कैसे हो सकता है कि आपको अचानक सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण की अगुआई वाली सीएसी को समय देना मुश्किल हो गया या कोच रमेश पोवार के अनुबंध का विस्तार करना मुश्किल हो गया।


कृपया उस समय को याद कीजिए जब पुरुष टीम बिना कोच के विंडीज के दौरे पर गई थी और डॉ. श्रीधर को टीम के साथ बने रहने के लिए कहा गया था। तब समयसीमा बढ़ाई गई थी और सीएसी को कोच चुनने की अपनी प्रक्रिया को पूरी करने की अनुमति दी गई थी। इडुल्जी ने नवनियुक्त कोच रमन को अंतरिम कोच के तौर पर रखने की मांग की। इडुल्जी ने लिखा कि रमन को अपने पुराने अनुबंध पर अंतरिम कोच के रूप में जाने देना ही समझदारी है, जो जून 2019 तक वैध है और सीएसी को एक नई प्रक्रिया करके नया पूर्ण कालिक कोच को तय करने देना चाहिए। इससे पहले बोर्ड के प्रमुख वित्तीय अधिकारी संतोष रंगनेकर सीओए से नए कोच के करार को लेकर स्वीकृति की मांग की थी, जिसको लेकर राय ने गुरुवार को ईमेल लिखकर इडुल्जी की सहमति मांगी थी, लेकिन सीओए की सदस्य ने इसको लेकर कई सवाल खड़े कर दिए। इडुल्जी ने इस ईमेल की कॉपी बोर्ड के सभी आला अधिकारियों को भेजी है।

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति