सुर्ख़ियां : गृहमंत्री के क्षेत्र से रिटर्निंग अफसर को हटाया, शिवराज का चुनाव आयोग पर आरोप





गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह के विधानसभा क्षेत्र खुरई के रिटर्निंग ऑफिसर विकास सिंह को हटा दिया गया है.भोपाल में पुलिस मुख्यालय(होमगार्ड) की मैस में लावारिस डाक मत पत्र मिलने पर एएसआई पूर्णिमा श्रीवास्तव को सस्पेंड कर दिया गया है. भोपाल की हुजूर विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी रामेश्वर शर्मा के खिलाफ सिंधी समाज ने भोपाल में धरना दिया और अब वो उनकी गिरफ़्तारी की मांग के साथ चक्का जाम करेंगे.मध्य प्रदेश कैबिनेट की विवादित बैठक के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने प्रेस कान्फ्रेंस की. उन्होंने आरोप लगाया कि चुनाव आयोग ने बीजेपी के साथ अमानवीयता की. यही ख़बरें आज भोपाल के प्रमुख समाचार पत्रों की सुर्खियां बनीं. खुरई में विकास सिंह की जगह सागर की अपर कलेक्टर आईएएस अफसर तन्वी हुड्डा की पोस्टिंग की गयी है, खुरई से 48 घंटे बाद EVM स्ट्रांग भेजने के मामले में ये कार्रवाई की गयी.इनके अलावा होम गार्ड के नगर सैनिक श्याम सिंह और अनिल कुमार उइके को भी हटाया जा रहा है. इनके अलावा एक और बड़ी ख़बर ये रही कि भोपाल के नज़दीकी ज़िले रायसेन के रातापानी मंडल में एक बाघ का शिकार किया गया.बाघ के दोनों पंजे शिकारी काट कर ले गए. कि गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह के विधानसभा क्षेत्र खुरई में 28 नवंबर को मतदान के 48 घंटे बाद 48 EVM स्ट्रांग रूम में रखने के लिए सागर भेजी गयीं. ये मशीनें जिस स्कूल बस में रखकर भेजी गयीं वो बिना नंबर की थी. कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि गृहमंत्री को चुनाव में फायदा पहुंचाने के लिए ऐसा किया गया. मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी वी एल कांताराव ने सागर कमिश्नर को इस मामले की जांच सौंपी थी. प्रदेश के निर्वाचन दफ़्तर ने जांच रिपोर्ट केंद्रीय चुनाव आयोग को भेजी थी. उसके बाद आयोग ने रिटर्निंग अफसर को हटा दिया. सीएम ने अफसरों की गोपनीय बैठक बुलायी : कमलनाथ पीसीसी चीफ कमलनाथ ने आरोप लगाया कि सीएम शिवराज सिंह चौहान छुट्टी मनाने बांधवगढ़ नहीं गए हैं बल्कि वहां चुनाव ड्यूटी पर लगे अफसरों के साथ गोपनियी बैठक करेंगे. सीएम की पीसी को अपनी खबरों में सबसे पहले जगह दी है. उसने हैडलाइन दी है-शिवराज बोले-मेरे लिए अमानवीय हो गया था चुनाव आयोग. मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत का कार्यकाल ख़त्म होते ही सीएम शिवराज सिंह चौहान ने चुनाव आयोग के ख़िलाफ टिप्पणी की है. उन्होंने कहा-मेरे लिए चुनाव आयोग अमानवीय हो गया था. रावत के रहते आयोग ने जिस तरह की सख़्ती बरती,उसे शिवराज के बयान से जो़ड़कर देखा जा रहा है. एमपी कैडर के आईएएस अफसर रहे रावत और शिवराज सिंह चौहान के बीच संबंध अच्छे नहीं रहे. रावत प्रदेश में मुख्य सचिव पद के प्रबल दावेदार रहे,लेकिन वो शिवराज के कार्यकाल में ये पद नहीं पा सके. इंदौर के संत भय्यूजी महाराज सुसाइड केस के बाद परिवार और उनके ट्र्स्टी के बीच रहे विवाद में अब सद्गुरु दत्त धार्मिक एवं परमार्थिक ट्रस्ट के सचिव तुषार पाटिल का बयान आया है. पाटिल ने कहा है कि मैं सिर्फ ट्रस्ट के प्रति ज़िम्मेदार हूं, किसी परिवार के प्रति नहीं. भय्यूजी की पत्नी आयुषी ट्रस्ट से पैसा और सामान मांग रही हैं, इसका फैसला ट्रस्ट ही करेगा. दरअसल आयुषी ने ट्र्स्टी पाटिल पर आरोप लगाए थे, उसका जवाब तुषार पाटिल ने दिया है. रातापानी अभयारण्य में मिला था बाघ का शव, दोनों पंजे कटे थे

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति