सूत्रों का दावा: अखिलेश-मायावती के बीच बनी सीटों पर सहमति, 37-37 सीटों पर लड़ेंगे लोस चुनाव



नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए सभी राजनीतिक दल अपनी तैयारियों में लगे हैं। यूपी में भी इसकी कवायदें तेज हैं और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती और समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया अखिलेश यादव आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सीट बंटवारे को अंतिम रूप देने के काफी करीब पहुंच गए हैं।


सपा सूत्रों ने बताया कि मायावती और अखिलेश ने शुक्रवार को प्रस्तावित गठबंधन के विभिन्न पहलुओं को अंतिम रूप देने के लिए विचार-विमर्श किया। हालांकि इस मुलाकात के बाद दोनों ही पार्टियों ने कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया, लेकिन सूत्रों ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में दोनों पार्टियां 37-37 संसदीय सीटों पर चुनाव लड़ेंगी।


उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटें हैं। उन्होंने बताया कि बाकी सीटें कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) और अन्य छोटी पार्टियों के लिए छोड़ी जाएंगी। अखिलेश और मायावती की इस मुलाकात के बाद राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गई हैं। माना जा रहा है कि मायावती के जन्मदिन पर या फिर जनवरी में ही गठबंधन के संबंध में सार्वजनिक ऐलान कर दिया जाएगा। इस बीच मायावती नई दिल्ली से लखनऊ आ जाएंगी। लखनऊ में दोनों नेताओं की मौजूदगी पर गठबंधन पर और चर्चा आगे बढ़ेगी।  

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति