शिवराज के बयान पर दिग्गी का पलटवार, कहा- भाजपा नेता पैसे का लालच देकर खरीदना चाहते हैं



उज्जैन। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने शिवराज के बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के नेता डरा-धमकाकर और पैसे का लालच देकर लोगों को खरीदना चाहते हैं। दरअसल, दिग्विजय सिंह गुप्त नवरात्रि के पहले दिन देवी हरसिध्दि और महाकाल का आशीर्वाद लेने उज्जैन पहुंचे थे। उनके साथ बड़ी संख्या में समर्थक मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने महाकाल मंदिर स्थित महा निवार्णी अखाड़े के महंत प्रकाश पुरी से भी बात की।


डरा-धमकाकर खरीदना चाहती है बीजेपी दरअसल, कुछ दिनों पहले बीजेपी ने बयान दिया था कि प्रदेश में लंगड़ी सरकार है और वे जब चाहे कांग्रेस की सरकार गिरा सकते हैं। इस बयान पर पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि बीजेपी ने महामहिम राज्यपाल के पद का अपमान किया है। बीजेपी के नेता केवल लोगों को डरा-धमकाकर और पैसे का लोभ देकर खरीदना चाहते हैं। लेकिन, कांग्रेस पार्टी में कोई बिकाऊ नहीं है।


पश्चिम बंगाल के बारे में बोलने से किया इंकार जब दिग्विजय सिंह से पूछा गया कि पश्चिम बंगाल में चल रहे सीबीआई और ममता बनर्जी के मामले में उनका क्या कहना है, तो उन्होंने इस मामले से पल्ला झाड़ दिया। उन्होंने कहा कि इस मामले में कांग्रेस के प्रवक्ता से बात की जाए। महाकाल मंदिर के आशीर्वाद से बनी सरकार दिग्विजय सिंह ने कहा कि महाकाल मंदिर और हरसिद्धि माता मंदिर के आशीर्वाद से मध्यप्रदेश में कमलनाथ की सरकार बनी है। इसलिए, उनका दायित्व है कि वे माथा टेककर आभार प्रदर्शित करें और आशीर्वाद लें।  

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति