शिवपुरी में शिवराज ने सरकार पर बोला हमला, कहा- जुल्म करोगे तो और लड़ेंगे, झुकेंगे नहीं



शिवपुरी। अगर पिछोर की जनता और मेरे कार्यकर्ता की ओर अंगुली उठी या उन पर झूठे मुकदमे दर्ज किए गए तो यह अन्याय बर्दाश्त नहीं करुंगा और पिछोर की जनता के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ के निवास का घेराब करूंगा यह कहना है पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का। पिछोर में एक सभा को संबोधित करते हुए शिवराज ने कहा कि वे अहिंसक हैं। हमारी दो ही मांग है कि झूठे मुकदमे समाप्त हों व आगे भी झूठे मुकदमे ना लगे। जुल्म किया तो और लड़ेंगे जुल्म के आगे नही झुकेंगे। उन्होंने कहा कि धैर्य की परीक्षा नहीं लेना नहीं तो एमपी ठप कर दिया जाएगा। यदि झूठे मामले वापिस नही लिए गए तो भाजपा गली मोहल्लों से लेकर भोपाल तक प्रदर्शन कर सरकार की नाकामी को उजागर करेगी।


पिछोर में भाजपा के पराजित प्रत्याशी नेता प्रीतमसिंह लोधी अपनी पत्नी मीरा लोधी सहित कई साथियों के साथ करीब 9 दिन से आमरण अनशन पर बैठे थे। भाजपा नेताओं और खुद उन पर दर्ज किए गए केस को फर्जी बताते हुए इन सभी केसों को वापस लेने की मांग को लेकर यह अनशन जारी था। उन्होंने प्रीतम लोधी को जूस पिलाकर अनशन समाप्त कराया तो वहीं मंच पर ही एसपी राजेश हिंगणकर और कलेक्टर अनुग्रह पी को ज्ञापन भी सौंपा। सरकार पर हमला बोलते हुए शिवराज ने कहा कि कांग्रेस की सरकार लंगड़ी, बैसाखी वाली सरकार है, हम चाहते तो हम भी सरकार बना लेते लेकिन हमने लोकतंत्र का सम्मान करते हुए इस्तीफा दिया और ऐसी सरकार नहीं बनाई।


उन्होंने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल ने कहा था कि हम सरकार बनने पर 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ करेंगे नही तो मुख्यमंत्री बदल दूंगा जबकि कांग्रेसी सरकार रंग के फार्मो में उलझाकर किसानों को गुमराह करने का काम कर रही है। हमने जनता की सेवा करने की कोशिश की और कांग्रेस संबल योजना को बंद करने की तैयारी कर रही है वह संबल योजना के कार्ड से मुख्यमंत्री के फोटो वापस लेकर हटाना चाहती है आप फोटो तो हटा दोगे लेकिन जनता के दिनों से शिवराज का फोटो कैसे निकालोगे। पूर्व सीएम ने कहा कि पिछोर विधायक के कहने पर दमनचक्र चल रहा है। विधायक के कहने पर भाजपा नेताओं, कार्यकतार्ओं पर केस दर्ज किए जा रहे हैं। उन्होंने दो टूक कहा िक यदि दमनचक्र चला तो लडाई गलियों से लेकर भोपाल तक चलेगी। 

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति