महिला ने तीन बार किडनी ट्रांस्प्लांट कराकर कायम किया अनूठा रिकॉर्ड



नई दिल्ली। दिल्ली की 45 वषीर्या एक महिला की रिकॉर्ड तीसरी बार किडनी (गुर्दा) प्रतिरोपण सर्जरी की गयी।  एकता कालरा का 2001 से तीन बार किडनी ट्रांसप्लांट आॅपरेशन हो चुका है


आखिरी बार नवंबर 2018 में उनकी सर्जरी की गयी।


डॉक्टरों के मुताबिक, एक ही मरीज में कई बार प्रतिरोपण करना बहुत चुनौतीपूर्ण होता है, क्योंकि प्रत्येक प्रतिरोपण के साथ खतरा बढ़ता जाता है और जटिलताएं बहुत बढ़ जाती हैं।


इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल के सीनियर कंसल्टेंट संदीप गुलेरिया ने बताया कि कालरा का यह तीसरा प्रतिरोपण था।


  कालरा के मामले में उनकी जान बचाने के लिए उनके पति ने किडनी दान की।  पहली बार जब 2001 में उनका किडनी प्रतिरोपण हुआ था उस वक्त उनकी बड़ी बहन अंशु वालिया ने उन्हें किडनी दान की थी। एक दशक से ज्यादा समय तक किडनी ठीक काम करता रही लेकिन प्रतिरोपण वाले अंग की जिंदगी सीमित होती है । इसके बाद 2014 में उन्हें दिक्कत होने लगी थी।  इस बार उनकी दूसरी बहन रितु पाहवा ने किडनी दान की। 

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति