साध्वी प्रज्ञा के बचाव में आए बाबा रामदवे, कहा- बयान को आज के संदर्भ से नहीं देखना चाहिए



हरिद्वार। भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा मुंबई आतंकी हमले में शहीद हुए हेमंत करकरे पर विवादित बयान देने के बाद जमकर आलोचना झेल रही हैं। इस बीच अब योग गुरु बाबा रामदेव साध्वी प्रज्ञा के बचाव में खड़े हुए हैं


उन्होंने कहा कि साध्वी प्रज्ञा के बयान को आज के संदर्भ में ही नहीं देखा जाना चाहिए। साध्वी के पक्ष पर भी गौर करने की जरूरत है। बाबा ने कहा कि साध्वी ने सिर्फ शक के आधार पर नौ साल का कठोर कारावास भोगा। उसका भी संज्ञान लिया जाना चाहिए।


सोमवार को हरिद्वार में एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद पत्रकारों से चर्चा में योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि वह किसी दल विशेष की नहीं, बल्कि सर्वदलीय हैं।


उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश को तमाम तरह की राजनीतिक, आर्थिक और धार्मिक चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने दावा किया कि देश 2040 तक इन चुनौतियों से पार पाकर विश्व का सिरमौर राष्ट्र बन जाएगा।


पत्रकारों के सवालों के जवाब में बाबा रामदेव ने यह भी कहा कि आज राष्ट्र और राष्ट्रीयता के साथ आतंकवाद बड़ा मुद्दा है। पतंजलि योगपीठ देश में राष्ट्रवाद का अलख जगा रहा है। उन्होंने कहा कोशिश है कि आचार्यकुलम, वैदिक शिक्षा और पतंजलि विवि के सम्मिलित प्रयासों से देश की आने वाली पीढ़ी को 25 साल बाद सर्वश्रेष्ठ राजनैतिक नेतृत्व मिले। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने दुनिया को आतंक का रास्ता दिखाया, लेकिन भारत ने दुनिया को कई महत्वपूर्ण आयामों के साथ-साथ योग के जरिए स्वस्थ रहने का मार्ग भी दिया है।

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति