धनतेरस पर भूलकर भी ना जलाएं ऐसा दीपक वरना होगा सर्वनाश





आप सभी को बता दें कि कार्तिक मास में धनतेरस का त्यौहार भी मनाया जाता है जिसमें कुबेर और लक्ष्मी माता की पूजा अनिवार्य है. ऐसे में इस बार 7 नवंबर 2018 को दिवाली है और इससे तीन दिन पहले 5 नवंबर 2018 को धनतेरस है. ऐसे में देश भर में धनतेरस की तैयारियां हो रही हैं और इस दिन दिये जलाना आरंभ होता है. ऐसे में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को 'धनतेरस' कहा जाता है साथ ही इसे 'धनवंतरि त्रयोदशी' भी कहते हैं. ऐसे में धनतेरस पर लोग खरीददारी करते हैं और कहा जाता है इस दिन वस्तुएं, बर्तन और धातुओं को खरीदना शुभ होता है. वहीं इसी के साथ धनतेरस पर धन के देवी लक्ष्मी, कुबेर और भगवान धनवंतरि की पूजा की जाती है और धनतेरस के दिन से घरों में दिवाली की धूम शुरू कर दी जाती है. इसी के साथ आपको बता दें कि धनतेरस के दिन से घरों में दीपक जलाना आरंभ हो जाता है और इस दिन घरों में लोग कुलदेवता पर दिये जलाते हैं लेकिन धनतेरस पर कोरा दीपक न जलाने की परंपरा शुरू से चली आ रही है. कहते हैं धनतेरस पर दीपक में मात्र तेल या घी डालकर न जलाएं क्योंकि यह अशुभ होता है और इसी के साथ जलते दीपक में अनाज के रूप में धान, चावल, बाजरा या चीनी के दाने अवश्य डालें और अगर आप दीपक में एक सिक्का डालकर जलाएंगे तो ज्यादा लाभ होगा. ध्यान रहे कि धनतेरस के दिन करीब 5 से 11 दिए जलाएं.

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति