शराब पीकर शबाब में नहाने का पूरा बंदोबस्त है यहां




&


  बॉलीवुड की एक फिल्म 'मेरी आवाज़ सुनो' में मशहूर चरित्र अभिनेता कादर खान का एक संवाद चर्चित रहा था.  फिल्म के खलनायक खान अपने हरम की लडकियां दिखाते हुए कहते है कि कोई यहां शराब में नहा सकता है और शबाब को साबुन की तरह अपने जिस्म पर लगा सकता है.  फिलहाल शराब और शबाब के ऐसे भरपूर इस्तेमाल का खुला मौका टेक्सास में लोगों को मिला हुआ है.  यहां एक सप्ताह के वसंत अवकाश का आनंद उठाने लगभग एक लाख छात्र-छात्राएं पहुंचे हैं. इस भीड़ ने अपनी मस्ती से दक्षिणी पैड्रो  द्वीप की रंगत कई गुना और बढ़ा दी है.  वहाँ लड़के और लडकियां शराब में धुत होकर मस्ती करते हैं. अक्सर यह मस्ती उस स्तर तक पहुँच जाती है, जिसे भारत में बेशर्मी कहा जाता है, लेकिन यहां के युवाओं को इससे कोई ऐतराज़ नहीं है.  इस रॉकस्टार बीच पर इतनी बड़ी संख्या को देखते हुए वहाँ SWAT टीम सहित एक चलित अस्पताल का इंतज़ाम भी किया गया है.  सर्वाधिक धूम यहां के क्लेटोन्स बीच बार पर है, जहां रोजाना करीब दस हज़ार युवा मस्ती करने पहुँच रहे हैं.  इस दौरान नशे के चलते मारपीट की घटनाएं भी आम हैं और इनसे युवाओं की मस्ती और  जगह आने की ललक पर कोई असर नहीं होता है. 

loading...

रत्नाकर त्रिपाठी

रत्नाकर त्रिपाठी की गिनती प्रदेश के उन वरिष्ठ पत्रकारों में होती है जिन्हें लेखनी का धनी माना जा सकता है। राष्ट्रीय सहारा, दैनिक जागरण, दैनिक भास्कर सहित कई अखबारों और ई टीवी तक अपनी विशिष्ट छाप छोड़ने वाले रत्नाकर प्रदेश के उन गिने चुने संपादकों में से एक है जिनकी अपनी विशिष्ट पहचान उनकी लेखनी से है।



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति