यूपी में नौंवें उम्मीदवार पर बिगड़ सकता है भाजपा का गणित



उत्तरप्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर उपचुनाव में हार के बाद सूबे के राज्यसभा चुनाव में भी भाजपा की राह आसान नहीं दिख रही। एनडीए से नाराज चल रहे सहयोगी ओमप्रकाश राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के चार विधायक क्रॉस वोटिंग कर भाजपा का गणित बिगाड़ सकते हैं। दरअसल, 23 मार्च को यूपी से राज्यसभा की 10 सीटों पर चुनाव होना है। संख्या बल के आधार पर भाजपा आठ सीटें आसानी से जीत सकती है, लेकिन उसने नौवां प्रत्याशी भी खड़ा कर रखा है।


सपा अपनी एक सीट जीतने पर आश्वस्त है। बची हुई एक सीट जीतने के लिए सभी दल जोर लगा रहे हैं। ऐसे में राजभर के चार विधायक भाजपा को नौंवी सीट जिताने में अहम भूमिका निभा सकते हैं। राजभर ने रविवार को कहा, “हम अभी से कैसे बता सकते हैं कि राज्यसभा चुनाव में भाजपा को वोट देंगे या किसी अन्य को। अभी कोई फैसला नहीं किया है।’ उन्होंने कहा कि पार्टी ने उम्मीदवार तय करते वक्त उनसे कोई सलाह नहीं ली। जब तक भाजपा का कोई नेता उनसे नहीं पूछेगा, तब तक बात आगे नहीं बढ़ेगी।


अगरतला | त्रिपुरा में भाजपा और इंडीजिनीयस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) की गठबंधन सरकार बनने के एक सप्ताह बाद ही मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देब के सामने अलग राज्य की मांग कर रहे संगठनों ने नई चुनाैती पेश कर दी है। नेशनल फेडरेशन फॉर न्यू स्टेट्स ने नई दिल्ली में रविवार को अलग राज्य की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। इसमें आईपीएफटी के 500 से अधिक कार्यकर्ता शामिल हुए। प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री मोदी से त्विप्रालैंड सहित अलग राज्य की मांग पर विचार करने का अनुरोध किया।

loading...



प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति