होम मौद्रिक नीति
khushakhabari-rbi-ne-ghataya-repo-ret-homalon-ho-s

खुशखबरी: आरबीआई ने घटाया रेपो रेट, होमलोन हो सकता हे सस्ता

भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) ने रेपो रेट में 0.25% कटौती का फैसला किया। इसके साथ ही, अब रेपो रेट 6.50% से घटकर 6.25% हो गया। एमपीसी के छह में से चार सदस्योंं ने रेपो रेट में कटौती का समर्थन किया जबकि दो अन्य सदस्यों, विरल आचार्य और चेतन घाटे रेट कट के पक्ष में नहीं थे। बहरहाल, नई मौद्रिक नीति के तहत रिवर्स रीपो रेट घटकर 6 प्रतिशत जबकि बैंक रेट 6.50 प्रतिशत पर आ गया है। एमपीसी ने उम्मीद के मुताबिक नीतिगत रुख को 'नपी-तुली कठोरता' बरतने को बदल कर 'तटस्थ' कर दिया।  आगे पढ़ें

rbi-ki-mahatvapurn-baithak-aaj-shaktikant-das-pesh

आरबीआई की महत्वपूर्ण बैठक आज: शक्तिकांत दास पेश करेंगे मौद्रिक नीति की समीक्षा

बाजार के जानकारों का मानना है कि दास की अगुआई में मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) का रुख ब्याज दरों को लेकर नरम रहता है या नहीं, यह देखने वाली बात होगी। वहीं, सरकार निश्चित तौर पर यह पसंद करेगी कि आम चुनावों से ठीक पहले पेश होने वाली मौद्रिक नीति समीक्षा में ब्याज दरों में कमी की जाए ताकि होम लोन और आॅटो लोन की दरों में और कमी हो सके।  आगे पढ़ें

rbi-governor-kal-karenge-maudrik-neeti-ki-samiksha

आरबीआई गवर्नर कल करेंगे मौद्रिक नीति की समीक्षा, ब्याज दरों को घटाने रेपो रेट में हो सकती है कटौती

भाजपा ने वर्ष 2014 के अपने चुनावी घोषणा में यह वादा किया था कि वह होम लोन व अन्य कर्जे की दरों को कम करेगी। एसबीआई की आर्थिक शोध इकाई ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि आरबीआई ब्याज दरों को घटाने के लिए रेपो रेट में 0.25 की कटौती कर सकता है। रेपो रेट (वह दर जिस पर बैंक अपनी अतिरिक्त पूंजी आरबीआई के पास जमा करते हैं) ही अल्पावधि मे ब्याज दरों को तय करने में अहम भूमिका निभाती है। बैंक आफ अमेरिका मेरिल लिंच ने भी एसबीआई की तरह 0.25 फीसदी की कटौती की संभावना जताई है।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति