होम प्रियंका गांधी वाड्रा
priyanka-gandhi-asked-the-workers-do-not-ignite-on

प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं से कहा- एग्जिट पोल पर ना दें ध्यान, मतगणना केन्द्रों पर डंटे रहें

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता स्ट्रॉन्ग रूम और मतगणना केंद्रों पर डटे रहें। कार्यकर्ताओं को जारी आॅडियो संदेश में प्रियंका ने कहा, 'आप लोग, अफवाहों और एग्जिट पोल से हिम्मत मत हारिए। ये अफवाहें आपका हौसला तोड़ने के लिए फैलाई जा रही हैं। इस बीच आपकी सावधानी और भी महत्वपूर्ण बन जाती है। स्ट्रॉन्ग रूम और मतगणना केंद्रों पर डटे रहिए और चौकन्ने रहिए।'  आगे पढ़ें

on-reaching-amethi-priyanka-got-angry-on-the-memor

अमेठी पहुंचने पर प्रियंका ने स्मृति पर कसा तंज, कहा- मैं खुशू हूं कि वे यहां आने का रख रहीं हिसाब

प्रियंका ने राष्ट्रवाद के मुद्दे को लेकर प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, मुझे भाजपा के राष्ट्रवाद के बारे में नहीं पता, लेकिन वे (मोदी) किसानों, युवाओं, महिलाओं और अन्य लोगों की शिकायतों को सुनने के लिए तैयार नहीं हैं। ये किस तरह का राष्ट्रवाद? जब हजारों किसान नंगे पैर पूरे देश भर से आपके दरवाजे तक आए और आपने उनकी बात नहीं सुनी। गरीबों की सुनवाई नहीं, नौजवानों से झूठे वादे किए जाते हैं, यही देशभक्ति है क्या? उन्होंने कहा, ''राष्ट्रवाद का मतलब, देश और लोगों का विश्वास जीतना है। जब देश के लोग ही परेशान होंगे तो राष्ट्रवाद की बात करना क्या उनके साथ बेइमानी नही होगी?'' प्रियंका ने मोदी पर जातिवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।  आगे पढ़ें

priyanka-ajay-rai-fight-elections-varanasi

वाराणसी सीटी को लेकर कांग्रेस ने तस्वीर की साफ, प्रियंका नहीं अजय राय लड़ेंगे चुनाव

प्रियंका ने अपने लड़ने के फैसले की बात राहुल गांधी पर छोड़कर इस मामले में गेंद अपने भाई व अध्यक्ष राहुल गांधी के पाले में डाल दी थी। सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका गांधी मोदी से मुकाबले के लिए तैयार थीं, लेकिन राहुल गांधी नहीं चाहते कि पहले ही चुनाव में वह हार का सामना करें। पार्टी को लगता है कि पहले ही चुनाव में मोदी जैसे कद्दावर नेता से सामना करना आसान काम नहीं है। इसके पीछे सोच थी कि मोदी टीम से लेकर अनुभव तक हर मामले में प्रियंका और कांग्रेस से मजबूत हैं। अगर प्रियंका यहां से हार जातीं तो उनका राजनीतिक करियर शुरू होने से पहले ही खत्म हो जाता।  आगे पढ़ें

priyanka-reached-bhadohi-speaking-about-modi-attac

भदोही में पहुंची प्रियंका ने मोदी पर बोला हमला, कहा- यह निर्बल सरकार है

लोगों को संबोधित करते हुए प्रियंका भावुक हो उठीं। उन्होंने कहा कि हमारे परिवार ने बहुत समस्या झेली है। हमने पिता की शहादत देखी है। भाई की परेशानी देखी है। राहुल गांधी आपकी चिंता करते हैं। आपका भला चाहते हैं। उन्हें सत्ता से मतलब नहीं है। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि भदोही के कालीन उद्योग पर सात फीसदी जीएसटी लगा मोदी सरकार ने बुनकरों के सपने को चूर कर दिया। कांग्रेस की सरकार ने मध्य प्रदेश और राजस्थान में किसानों की कर्जमाफी का वादा किया था, उसे राहुल ने 10 मिनट में पूरा किया।  आगे पढ़ें

describing-the-definition-of-patriotism-priyanka-c

देशभक्ति की परिभाषा बताकर प्रियंका ने छेड़ी नई बहस, भाजपा ने सवालों की लगाई झड़ी

गुजरात की कांग्रेस कार्यसमिति में पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सही वोट और जागरूकता को देशभक्ति की नई परिभाषा बताकर बहस खड़ी की तो अगले ही दिन भाजपा ने सवालों की झड़ी लगा दी। छह घटनाएं याद दिलाकर उनसे जवाब मांगे हैं। बुधवार को लखनऊ के भाजपा मुख्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में स्वास्थ्य मंत्री और राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने प्रियंका से सवाल किए।  आगे पढ़ें

priyanka-on-the-question-of-robert-vadra-said-thes

राबर्ट वाड्रा के सवाल पर बोलीं प्रियंका, कहा- ये चीजें चलती रहेंगी, मैं अपना काम करती रहूंगी

मंगलवार रात प्रियंका से पूछा गया है कि क्या रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ चल रही जांच का उन पर कोई असर पड़ेगा तो प्रियंका ने कहा, ये चीजें चलती रहेंगी। मैं अपना काम करती रहूंगी। मालूम हो, ईडी लंदन और बीकानेर की प्रॉपर्टी को लेकर वाड्रा से पूछताछ कर रहा है। बीते दिनों दिल्ली में हुई मैराथन पूछताछ के बाद अब बीकानेर मामले में सवाल-जवाब जारी हैं।  आगे पढ़ें

priyanka-ka-pahala-daura-aajcongress-ke-chamatkari

प्रियंका का पहला दौरा आज, कांग्रेस के चमत्कारिक प्रदर्शन की डगर नहीं आसान

प्रियंका गांधी वाड्रा की राजनीतिक एंट्री का मंच सज गया है। कांग्रेस कार्यकर्ता उत्साह में हैं। एयरपोर्ट से प्रदेश कांग्रेस कार्यालय तक जगह-जगह स्वागत के लिए नेताओं को जिम्मेदारी दे दी गई है। बकौल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर यह कांग्रेस के राजनीतिक इतिहास का स्वर्णिम दिन होगा। हालांकि, प्रियंका गांधी वाड्रा की राह में चुनौतियां कम नहीं हैं। प्रदेश में अपने बुरे दौर से गुजर रही कांग्रेस के चमत्कारिक प्रदर्शन की डगर इतनी आसान नहीं है।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति