होम पीएम नरेंद्र मोदी
modi-arrives-at-bishkek-gives-strong-message-to-pa

बिश्केक पहुंचे मोदी ने आतंकवाद पर पाक को दिया कड़ा संदेश, चीन और रूस को साधा

पीएम नरेंद्र मोदी ने चीन और रूस के नेताओं से मुलाकातें कीं और पाकिस्तान को घेरा। पाकिस्तान के सदाबहार दोस्त चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से बातचीत में मोदी ने साफ कर दिया कि भारत सीमापार से आतंकवाद रुकने तक पाकिस्तान से वार्ता नहीं करेगा। पाक आतंक के खिलाफ ठोस कार्रवाई करे। चिनफिंग ने भरोसा दिलाया कि दोनों देश एक-दूसरे के लिए खतरा नहीं हैं। उन्होंने भारत से आयात के लिए नियमों को सरल बनाने का वादा किया। संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए वह इस साल नई दिल्ली का दौरा करेंगे।  आगे पढ़ें

pm-modi-other-than-sco-summit-meeting-with-chinese

एससीओ समिट से इतर पीएम मोदी ने चीनी राष्ट्रपति से की मुलाकात, पाक और आतंकवाद का उठा मुद्दा

दोनों नेताओं के बीच हुई बातचीत की जानकारी देते हुए विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि पीएम और राष्ट्रपति शी विशेष तौर पर इसके लिए सहमत हुए हैं कि दोनों देशों को इन संबंधों से और बेहतर उम्मीदें हैं। दोनों नेता वुहान समिट की सफलता को लेकर भी सहमत हुए। इसी कड़ी में पीए मोदी ने राष्ट्रपति शी को अगली अनौपचारिक समिट के लिए भारत आने का निमंत्रण दिया है। राष्ट्रपति शी इसी साल भारत के दौरे पर आएंगे। इस दौरान पीएम मोदी के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी मौजूद थे। गोखले ने बताया, 'पीएम मोदी ने कहा कि यह दोनों देशों के बीच बेहतर हो रहे संबंधों का ही नतीजा है कि लंबे समय से पेंडिंग पड़े मुद्दों को सुलझा लिया गया है। इनमें बैंक आॅफ चाइना की भारत में ब्रांच खोलने और मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी लिस्ट में शामिल करने के मुद्दे प्रमुख हैं।'  आगे पढ़ें

bjps-big-stakes-ysr-congress-has-given-the-post-of

भाजपा का बड़ा दांव, वाईएसआर कांग्रेस को दिया लोकसभा में डिप्टी स्पीकर के पद का आफर!

सूत्रों का कहना है कि जगन ने फिलहाल इस पर कोई फैसला नहीं लिया है और आॅफर पर सोचने के लिए वक्त मांगा है। इस आॅफर को स्वीकारने के अपने राजनीतिक संदेश भी हो सकते हैं। जगन की पार्टी के लिए प्रदेश के अल्पसंख्यक मुस्लिम और ईसाई समुदाय के लोगों ने बड़ी संख्या में वोट किया है। सूत्रों का कहना है कि वोट बैंक को देखते हुए जगन इस आॅफर को स्वीकार करने से पहले पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से चर्चा करेंगे।  आगे पढ़ें

pm-modi-keral-daure-par-112-kilo-kamal-ke-phul-se-

पीएम मोदी केरल दौरे पर, 112 किलो कमल के फूल से कृष्ण मंदिर में करेंगे पूजा-अर्चना

केरल में 100 साल से अधिक समय से मुस्लिम परिवारों का एक समूह कमल की खेती करता है। राज्यभर के मंदिरों में पूजा-अर्चना के दौरान इन फूलों का इस्तेमाल होता है। सूबे में ज्यादातर कमल की खेती मुस्लिम परिवार ही करते हैं। गुरुवयूर सहित आसपास के आधा दर्जन मंदिरों में ही करीब 20 हजार कमल के फूल का इस्तेमाल रोजाना होता है। बता दें कि पीएम मोदी दो दिवसीय केरल यात्रा पर हैं। शनिवार को गुरुवयूर मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद पीएम मोदी एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। बताया जा रहा है कि केरल दौरे के बाद यहीं से पीएम मोदी मालदीव के लिए रवाना हो जाएंगे।  आगे पढ़ें

nda-will-elect-today-modi-will-be-the-leader-of-pa

एनडीए आज चुनेगा मोदी को संसदीय दल का नेता, शाह समेत कई नए चेहरों को मंत्रिमंडल में मिल सकती है जगह

542 सीटों के लिए हुए चुनाव में भाजपा 303 सीटें जीत चुकी है। 68 वर्षीय मोदी दशक के सबसे लोकप्रिय नेता बनकर उभरे हैं। भारी-भरकम जीत से भाजपा में उत्साह का माहौल है। अब नई सरकार के गठन को लेकर मशवरा शुरू हो गया है। अमित शाह समेत कई नए चेहरों को मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है वहीं कुछ के विभाग भी बदले जा सकते हैं।  आगे पढ़ें

the-biggest-challenge-for-the-modi-government-will

विकास दर की रफ्तार को बरकरार रखना मोदी सरकार के लिए होगी सबसे बड़ी चुनौती

देश में एक बार फिर अगले पांच साल के लिए स्थिर सरकार बन गई है। आर्थिक मोर्चे पर यह भारत के लिए सकारात्मक संकेत है तब जब यह दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यस्था है, लेकिन बावजूद इसके पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली नई सरकार के सामने कई चुनौतियां होंगी, जिनसे उन्हें निपटना होगा। ये चुनौतियां विकास की धीमी रफ्तार, कमजोर मांग, प्राइवेट इन्वेस्टमेंट में कमी और वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता हैं । भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है, ऐसे में विकास दर की रफ्तार को बरकरार रखना सरकार के लिए बड़ी चुनौती होगी। पिछली कुछ तिमाहियों में विकास दर रफ्तार में थोड़ी सुस्ती आई है, ऐसे में सरकार को इस दिशा में सक्रिय भूमिका निभानी होगी।  आगे पढ़ें

mayawatis-political-routine-changes-pm-modi-attack

मायावती की सियासी दिनचर्या में आया बदलाव, पीएम मोदी पर और तेज किए हमले

यूपी में अब आखिरी चरण की 13 सीटों पर चुनाव बचा हुआ है। यह सभी सीटें पूर्वांचल की हैं। इसमें अधिकतर सीटें पिछड़ा, सवर्ण व दलित बहुल हैं। पिछड़े में गैर यादव अति-पिछड़ी जातियां अधिकतर सीटों पर प्रभावी हैं। वहीं दलितों में भी गैर जाटव वोटर कई सीटों पर अच्छी तादाद में हैं। 2014 के लोकसभा और 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने दलित वोटों में भी अच्छी सेंधमारी की थी। अब एक बार फिर पूर्वांचल के जातीय कुरुक्षेत्र में मोदी की अगुआई में बीजेपी ने बीएसपी के इन कोर वोटों पर नजर गड़ा रखी है। पीएम मोदी जिस तरह से राजस्थान के अलवर में हुई सामूहिक बलात्कार की वीभत्स घटना पर मायावती की 'जवाबदेही' तय कर रहे हैं, यह इसकी नजीर है।  आगे पढ़ें

the-finance-minister-spoke-on-mayawati-said-the-at

वित्तमंत्री ने मायावती पर बोला हमला, कहा-अयोग्य हैं सार्वजनिक जीवन के लिए

अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि मायावती 'अब तक के सबसे निचले स्तर' पर हैं और वे सार्वजनिक जीवन के योग्य नहीं है। जेटली ने ट्वीट किया कि 'मायावती प्रधानमंत्री बनने की चाहत रखती हैं, लेकिन उनका गर्वनेंस, नैतिकता और संवाद अब तक के सबसे निम्न स्तर पर पहुंच गया है। उनका हाल ही में पीएम मोदी को लेकर दिया गया बयान साबित कहता है कि वे राजनीतिक और सार्वजनिक जीवन के लायक नहीं है।'  आगे पढ़ें

in-gazipur-pm-speaks-to-congress-attack-said-congr

गाजीपुर में पीएम ने कांग्रेस पर बोला हमला, कहा- अलवर गैंगरेप को दबाने में लगी कांग्रेस सरकार

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा, 'बीते तीन दिनों से अलवर की एक खबर बाहर आने लगी है। वहां दो हफ्ते पहले एक दलित लड़की के साथ कुछ दरिंदों ने बलात्कार किया। लेकिन इन दरिंदों को पकड़ने के बजाय वहां की पुलिस और कांग्रेस सरकार केस दबाने में जुट गई। कांग्रेस नहीं चाहती थी कि चुनाव से पहले यह खबर बाहर आए और इसीलिए खबर दबाना चाहते थे। जिस बेटी को न्याय मिलना चाहिए था, उसे न्याय दिलाने के बजाय कांग्रेस चुनाव में साख बचाती रही। यही कांग्रेस के न्याय की सच्चाई है।'  आगे पढ़ें

pms-clean-chit-about-the-speeches-was-not-made-bet

भाषणों को लेकर पीएम मोदी के क्लीन चिट को लेकर आयोग के पैनल के बीच नहीं बनी थी सहमति!

महाराष्ट्र के वर्धा में एक अप्रैल की रैली में पीएम मोदी ने राहुल गांधी के अल्पसंख्यक मदादाताओं की अधिक संख्या वाली वायनाड सीट से चुनाव लड़ने पर वार किया था। इसके अलावा लातूर में 9 अप्रैल को उन्होंने पहली बार वोट देने वालों से बालाकोट एयरस्ट्राइक को ध्यान में रखकर मतदान की अपील की थी। इन दोनों ही बयानों पर कांग्रेस ने चुनाव आयोग से उनकी शिकायत की थी।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति