होम दीक्षा
shankaraachaary-ke-dandee-deeksha-samaaroh-mein-pa

शंकराचार्य के दंडी दीक्षा समारोह में पहुंचे दिग्गी ने कहा- निजी स्वार्थ के लिए धर्म का हो रहा गलत इस्तेमाल

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पत्नी अमृता सिंह के साथ शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती की दंडी दीक्षा समारोह में शामिल होने जबलपुर आए थे। इस दौरान उन्होंने नेता प्रतिपक्ष के बयान पर सिर्फ इतना कहा कि कुंभ में कुंडली नहीं देखी जाती। वहीं अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि आज राजनीतिक दल अपने स्वार्थ के लिए धर्म का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने कहा कि कांग्रेस ने जो भी वादे जनता से किए हैं, उन्हें पूरा करेगी। किसानों के कर्ज माफी में पैसे की कमी आड़े नहीं आएगी।  आगे पढ़ें

karodon-ka-moh-chhod-vairaagy-kee-raah-par-poora-p

करोड़ों का मोह छोड़ वैराग्य की राह पर पूरा परिवार, लेगा जैन धर्म की दीक्षा

राकेश कोठारी (45) टेक्सटाइल व्यापारी हैं और उनका करोड़ों रुपये का कारोबार है। सीमा कोठारी (43) गृहिणी हैं। उनके बेटे मीत कोठारी (21) हिंदुजा कॉलेज से बीकॉम करने के बाद सीए का कोर्स कर रहे थे। शैली कोठारी (19) एचएससी के बाद धार्मिक शिक्षा ले रही थीं। उन्हें गाने का शौक था और वह इंडियन आयडल में जाना चाहती थीं। इन चारों के दीक्षा लेने के बाद अब राकेश कोठारी के परिवार में उनका कारोबार देखने वाला उनके कोई नहीं रहेगा। उनके घर में भी ताला लग जाएगा।  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति