होम कमलनाथ सरकार
gopaal-bhaargav-ka-bada-bayaan-kaha-phir-modee-pee

गोपाल भार्गव का बड़ा बयान, कहा- फिर मोदी पीएम बने तो 7 दिन के अंदर गिर जाएगी कमलनाथ सरकार

भाजपा नेता गोपाल भार्गव ने कहा कि कांग्रेस सरकार की कुंडली कुंभ में ज्योतिषियों को दिखाई है। ज्योतिषों का कहना है कि सरकार की कुंडली ठीक नही है, ज्यादा दिन नही चलेगी। दरअसल, नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद गोपाल भार्गव गुरुवार को पहली बार दमोह पहुंचे थे, जहां उनका जोरदार स्वागत किया गया।  आगे पढ़ें

shivaraaj-singh-ke-mantriyon-ka-shishukrtagee-kama

शिवराज सिंह के मंत्रियों का आयकर चुकाएगी कमलनाथ सरकार

सामान्य प्रशासन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मंत्री वेतन तथा भत्ता अधिनियम 1972 में मुख्यमंत्री, मंत्री और राज्यमंत्री को मिलने वाले वेतन, भत्ते तथा परिलब्धियों की राशि पर आयकर शासन देता है। 2018-19 में मंत्रियों को मिले वेतन तथा भत्ते पर जो कटौती की गई, उसकी प्रतिपूर्ति करने के आदेश दिए गए हैं।  आगे पढ़ें

karnaatak-mein-mache-siyaasee-uthaapatak-ke-beech-

कर्नाटक में मचे सियासी उठापटक के बीच घबराई कमलनाथ सरकार, कांग्रेस हुई शतर्क

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक कर्नाटक में बीजेपी को पता है कि वह सरकार गिराने में कामयाब नहीं हो पाएगी और वे अब मध्य प्रदेश में ऐसी कोशिश कर सकते हैं। कांग्रेस सूत्र का कहना है, 'वे भोपाल में हमें सत्ता से हटाने के के लिए असली ताकत लगाने जा रहे हैं।'  आगे पढ़ें

kamalanaath-sarakaar-ne-kee-pulis-vibhaag-kee-bade

कमलनाथ सरकार ने की पुलिस विभाग की बड़ी सर्जरी, 49 आईपीएस अधिकारियों का किया तबादला

11 एसपी लूप लाइन में भेज दिए गए हैं और लूप लाइन में पड़े 13 पुलिस अफसरों को एसपी बना दिया गया है। कालापीपल मंडी से कांग्रेस विधायक चुने गए कुणाल चौधरी के भाई हितैश चौधरी को सिंगरौली का एसपी बनाकर भेजा गया है। भोपाल साउथ के एसपी राहुल लोढ़ा को गुना भेज दिया गया है उनकी जगह संपत उपाध्याय लाए गए हैं। विनीत कपूर विदिशा एसपी पद से हटाकर पुलिस अकादमी भोपाल भेजे गए।  आगे पढ़ें

kaleeram-ka-phat-gaya-dhol

कालीराम का फट गया ढोल

अब जब लड़ने का फैसला कर ही लिया था तो हारने से क्या डरना था। कांग्रेस ने शुरूआत बेईमानी से की लेकिन लगता है जैसे कुश्ती नूरा थी। क्योंकि कांग्रेस बाद में पांचवा प्रस्ताव भी मानने को तैयार थी, लेकिन भाजपा ने सदन से बाहर जाने का फैसला शायद पहले ही कर लिया था। यह तो परसों रात ही तय हो गया था कि कांग्रेस के पास 121 सदस्यों के समर्थन की पुख्ता व्यवस्था है। ऐसे में भाजपा को जगहंसाई कराने से बचना चाहिए था। उसने कल निर्णय लिया कि इस पद के लिए चुनाव कराएगी। फिर ऐनवक्त पर पार्टी ने बहिर्गमन किया तो क्या उसका भी डर नहीं था कि वोटिंग होने की सूरत में उसके ही कुछ सदस्य कांग्रेस के प्रत्याशी का समर्थन कर सकते हैं? इसलिए अपनी जांघ उघाड़कर दिखने की प्रक्रिया से बचने के लिए उसके सदस्यों को सदन से बाहर का रुख करना पड़ा? इससे बेहतर तो यही होता कि राज्य की परम्परा के अनुरूप अध्यक्ष पद पर सत्तारूढ़ दल का विधायक चुनने दिया जाता और उपाध्यक्ष पद सम्माजनक तरीके से भाजपा के खाते में आ जाता। पर डरी हुई कांग्रेस ने पहले से ही उपाध्यक्ष का पद खुद के पास रखने का फैसला किया हुआ था। उपाध्यक्ष कोई बहुत निर्णायक भूमिका में नहीं रहता है लेकिन जब रोज के ही टकराव सामने दिख रहे हैं तो सत्तापक्ष के पास इसके अलावा रास्ता भी बाकी नहीं था। इसलिए मध्यप्रदेश में सत्तापक्ष और विपक्ष फिलहाल दोनों एक दूसरे से डरे हुए नजर आ रहे हैं।read more  आगे पढ़ें

vande-maataram-gaayan-par-kamalanaath-yoo-tarn-bol

वंदे मातरम गायन पर कमलनाथ यू-टर्न, बोले-गायन को बनाएंगे आकर्षक, पुलिस बैंड की धुन पर होगा राष्ट्रगीत

मध्य प्रदेश के सचिवालय में लंबे समय से चला आ रहा एक रिवाज अचानक से बदल दिया गया। यह परंपरा थी महीने के पहले दिन राष्ट्रगीत गाने की। नया साल शुरू हुआ, पहली तारीख पर जब वंदे मातरम नहीं गूंजा तो सवाल खड़े होने लगे। विपक्षी दल बीजेपी ने सरकार पर जमकर निशाना साधा था। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था, 'अगर कांग्रेस को राष्ट्रगीत के शब्द नहीं आते हैं या राष्ट्रगीत के गायन में शर्म आती है तो मुझे बता दें। हर महीने की पहली तारीख को वल्लभ भवन के प्रांगण में जनता के साथ वंदे मातरम मैं गाऊंगा।'  आगे पढ़ें

vande-maataram-par-siyaasat-tej-kalanaath-sarakaar

वंदे मातरम पर सियासत तेज, कलनाथ सरकार के खिलाफ भाजपा उतरी सड़कों पर

बीजेपी की मांग है कि सरकार यह फैसला तत्काल वापस ले नहीं तो प्रदर्शन तेज होगा। वहीं इस मामले में कमलनाथ सरकार की तरफ से सफाई भी पेश की गई थी। मुख्यमंत्री कमलनाथ के हवाले से दिए गए बयान में कहा गया कि यह निर्णय ना किसी एजेंडे के तहत लिया गया है और ना ही हमारा वंदेमातरम गायन को लेकर कोई विरोध है। वंदेमातरम हमारे दिल की गहराइयों में बसा है। हम भी समय-समय पर इसका गायन करते हैं।  आगे पढ़ें

cm-se-mantriyon-kee-maang-bijalee-bil-voosalee-mei

सीएम से मंत्रियों की मांग, बिजली बिल वूसली में अधिकारी कर रहे मनमानी, तत्काल लगाएं रोक

बैठक में मंत्रियों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से कहा कि बिजली बिल की वसूली में अधिकारी मनमानी कर रहे हैं। इस पर तत्काल रोक लगाई जाए। सूत्रों के मुताबिक, अनौपचारिक कैबिनेट बैठक में मंत्रियों ने कहा कि बिजली कंपनियां किसानों को नोटिस दे रही हैं। जब्ती बना रही हैं। इससे किसान परेशान हो रहे हैं।  आगे पढ़ें

naath-kelee-par-bole-ashagee-kaha-teem-yuva-aur-sv

नाथ के मंत्रिमंडल पर बोले दिग्गी, कहा- टीम युवा और संतुलित, सभी योग्य

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिन विधायकों को टीम कमलनाथ में जगह मिली है, वे सभी योग्य हैं और यह एक बेहतर मंत्रिमंडल है। चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मंत्रियों का नाम तय करने में कोई देर नहीं हुई है। सभी संभावनाओं को देखने के बाद संतुलित मंत्रिमंडल बना है।  आगे पढ़ें

paanch-din-kee-mashakkat-ke-baad-kamalaath-kaibine

पांच दिन की मशक्कत के बाद कमलाथ कैबिनेट का गठन आज, 22 मंत्री राजभवन में लेंगे शपथ

मंत्रिमंडल में गुटीय, क्षेत्रीय व सामाजिक संतुलन बनाने के प्रयास अंतिम क्षणों तक जारी रहे। इधर,खबर है कि बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती की मुख्यमंत्री नाथ से चर्चा हुई है। हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि बसपा सरकार में शामिल होगी या नहीं। हालांकि देर रात को जिनको मंत्रिमंडल में शामिल किया जाना है, उनके पास शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए फोन आने लगे थे  आगे पढ़ें

Previous 1 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति