होम कमलनाथ
bhaajapa-ke-poorv-vidhaayak-ramesh-saksena-ne-thaa

भाजपा के पूर्व विधायक रमेश सक्सेना ने थामा कांग्रेस का दामन, नाथ ने दिलाई पार्टी की सदस्यता

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में सक्सेना ने अपने समर्थकों के साथ कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली। उन्होंने कहा कि 24 साल बाद मेरी घर वापसी हुई है, मैं शरीर से जरूर भाजपा में था, लेकिन मन से हमेशा कांग्रेसी ही रहा।  आगे पढ़ें

gopaal-bhaargav-ka-bada-bayaan-kaha-phir-modee-pee

गोपाल भार्गव का बड़ा बयान, कहा- फिर मोदी पीएम बने तो 7 दिन के अंदर गिर जाएगी कमलनाथ सरकार

भाजपा नेता गोपाल भार्गव ने कहा कि कांग्रेस सरकार की कुंडली कुंभ में ज्योतिषियों को दिखाई है। ज्योतिषों का कहना है कि सरकार की कुंडली ठीक नही है, ज्यादा दिन नही चलेगी। दरअसल, नेता प्रतिपक्ष बनने के बाद गोपाल भार्गव गुरुवार को पहली बार दमोह पहुंचे थे, जहां उनका जोरदार स्वागत किया गया।  आगे पढ़ें

shivaraaj-singh-ke-mantriyon-ka-shishukrtagee-kama

शिवराज सिंह के मंत्रियों का आयकर चुकाएगी कमलनाथ सरकार

सामान्य प्रशासन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि मंत्री वेतन तथा भत्ता अधिनियम 1972 में मुख्यमंत्री, मंत्री और राज्यमंत्री को मिलने वाले वेतन, भत्ते तथा परिलब्धियों की राशि पर आयकर शासन देता है। 2018-19 में मंत्रियों को मिले वेतन तथा भत्ते पर जो कटौती की गई, उसकी प्रतिपूर्ति करने के आदेश दिए गए हैं।  आगे पढ़ें

kamalanaath-ka-moolyaankan

कमलनाथ का मूल्यांकन

एक हजार करोड़ का कर्ज लेकर नाथ ने शिवराज सिंह चौहान की रवायत को कुछ अलग अंदाज में आगे बढ़ा दिया है। अलग अंदाज यूं कि शिवराज ने कर्ज के पैसे का इस्तेमाल वोट बटोरने वाले कामों के लिए किया। नाथ इस राशि का इस्तेमाल वोट मिल जाने का कर्ज चुकाने लोकसभा में वोट वापसी के इंतजाम के तौर पर कर रहे हैं। उन्हें किसानों का कर्ज माफ करना है। बसपा सुप्रीमो मायावती के इस कथन पर भी वह सकारात्मक रुख दिखा चुके हैं कि सूदखोरों से लिया गया कर्ज भी माफ किया जाए। read more  आगे पढ़ें

karnaatak-mein-mache-siyaasee-uthaapatak-ke-beech-

कर्नाटक में मचे सियासी उठापटक के बीच घबराई कमलनाथ सरकार, कांग्रेस हुई शतर्क

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक कर्नाटक में बीजेपी को पता है कि वह सरकार गिराने में कामयाब नहीं हो पाएगी और वे अब मध्य प्रदेश में ऐसी कोशिश कर सकते हैं। कांग्रेस सूत्र का कहना है, 'वे भोपाल में हमें सत्ता से हटाने के के लिए असली ताकत लगाने जा रहे हैं।'  आगे पढ़ें

madhyapradesh-kisaan-karjamaaphee-ka-kaam-aaj-se-h

मध्यप्रदेश: किसान कर्जमाफी का काम आज से हुआ शुरू, पंचायतों में हरे-सफेद रंग की चिपकाई जाएंगी सूची

कांग्रेस सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी कर्जमाफी योजना के क्रियान्वयन को लेकर मंगलवार से सरकार और पार्टी एक साथ मैदान में उतरेगी। मंत्री जहां जिलों में किसानों से कर्जमाफी योजना के फार्म भरवाएंगे, वहीं विधायक और पार्टी पदाधिकारी भी इस काम में जुटेंगे। कांग्रेस की कोशिश है कि चुनाव से पहले ज्यादा से ज्यादा किसानों को कर्जमाफी का लाभ दिया जा सके, ताकि लोकसभा चुनाव में इसका फायदा पार्टी को मिले।  आगे पढ़ें

matter-of-pcc-president

मामला प्रदेशाध्यक्ष पद का

एक सवाल उठता है। नाथ ने जब जरूरत नहीं कहा तो उनका आशय नये प्रदेशाध्यक्ष से था या केवल अजय सिंह से? क्योंकि क्षमताओं से लबरेज होने के बावजूद सिंह बीते कई घटनाक्रमों में कमतर साबित हो चुके हैं। चौधरी राकेश सिंह प्रकरण से लेकर चुरहट सहित विंध्य में कांग्रेस की चुनावी पराजय ने उनकी क्षमताओं पर सवालिया निशान लगा दिए हैं। यह सही है कि कई समर्थकों ने सिंह के लिए सीट खाली करने की बात कहकर उनके प्रति यकीन जताया है, लेकिन यह भी तो सही है कि जो शख्स अपने परम्परागत गढ़ चुरहट की जनता का ही विश्वास कायम नहीं रख पाया, उसे किस वजह से चुनावी साल में प्रदेशाध्यक्ष पद जैसी अहम जिम्मेदारी दे दी जाए? दोनो बार नेता प्रतिपक्ष रहते हुए सिंह ने तत्कालीन शिवराज सिंह चौहान सरकार के खिलाफ दमदार तेवर दिखाए। वे अपनी हार के कारण तो जानते हैं लेकिन विंध्य में इस हार के पीछे की साजिश समझने का आग्रह वे पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से जरूर कर रहे हैं। लेकिन अब सरकार बन गई है तो कोई उनकी बात को शायद गंभीरता से नहीं ले रहा है। नेता प्रतिपक्ष रहते हुए भी वे पार्टी में अपनी लकीर लंबी नहीं कर पाएं, ऐसे में कांग्रेस उनकी दम पर संगठन को आगे बढ़ाने का जोखिम शायद ही लेना चाहेगी।read more  आगे पढ़ें

thanks-kamalnath

धन्यवाद कमलनाथ जी

यह बात पूरी तरह सही थी कि विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए चुनाव वाली स्थिति कांग्रेस के असंतुष्ट तबके को तोड़ने की कोशिश के तहत ही की गयी थी। फिर संदेह नूरा कुश्ती के भी नजर आए। हालांकि इससे कमलनाथ या कांग्रेस की साख पर तो बट्टा नहीं लगा लेकिन पन्द्रह साल सत्ता में रहने का रिकार्ड दर्ज करने वाली भाजपा का नौसीखिया पन जाहिर हुआ। यह साफ है कि कमलनाथ सरकार के कार्यकाल तक प्रदेश में सत्ता तथा विपक्ष के बीच राजनीतिक शुचिता से सर्वथा परे कई प्रसंग देखने मिलेंगे। फिर भी संतोष इस बात का है कि कमलनाथ ने काजल की कोठरी में रहते हुए भी कलंक की इस कालिख से खुद को दूर रखने की एक छोटी सी कोशिश तो की ही है। भला क्या हैसियत हो सकती है मुकेश तिवारी या फिर उस जैसे किसी अन्य हेडमास्टर की? read more  आगे पढ़ें

cm-kamalanaath-ne-dikhaee-dariyaadilee-amaryaadit-

सीएम कमलनाथ ने दिखाई दरियादिली, अमर्यादित टिप्पणी करने वाले हेडमास्टर को बहाल करने दिए निर्देश

बता दें कि हेडमास्टरमुकेश तिवारी ने एक सभा में सीएम कमलनाथ के लिए अमर्यादित बयान दिया था, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इस वीडियो को सबूत बनाकर जिले के कांग्रेसी नेताओं ने कलेक्टर छवि भारद्वाज से इसकी शिकायत की थी, जिसके बाद गुरुवार को उन्हें सस्पेंड कर दिया गया था। आदेश में शिक्षक की हरकत को को सिविल सेवा आचरण के उलट बताया गया था। हालांकि अब खुद मुख्यमंत्री ने इस मामले में पहल करते हुए टीचर का निलंबन आदेश वापस लेने के निर्देश दिए हैं  आगे पढ़ें

vivekaanand-jayantee-par-hua-saamoohik-soory-namas

विवेकानंद जयंती पर हुआ सामूहिक सूर्य नमस्कार, सीएम नाथ ने कहा- योग पूरी तरह वैज्ञानिक

स्वामी विवेकानंद जयंती और युवा दिवस के मौके पर सूर्य नमस्कार का आयोजन होता है। इस मौके पर भोपाल सहित कई जिलों में सूर्य नमस्कार आयोजित किया गया। भोपाल स्थित सुभाष स्कूल में सामूहिक सूर्य नमस्कार का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी सुभाष स्कूल पहुचे हैं। इसके अलावा ग्वालियर के कई स्कूलों और कॉलेजों में सूर्य नमस्कार हुआ। ग्वालियर के मुरार स्कूल में हुआ मुख्य समारोह हुआ जिसमें विधायक मुन्ना लाल गोयल शामिल हुए। बता दें कि सरकार ने सूर्य नमस्कार स्वैच्छिक रखा है।  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10  ... Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति