होम एसपी
expansion-in-the-sp-bsp-relationship-today-there-w

सपा-बसपा के रिश्तों में बढ़ रहीं नजदीकियां, आज एक मंच पर होंगे माया-मुलायम

गौरतलब है कि यूपी की आजमगढ़ से लोकसभा सांसद मुलाम सिंह यादव इसबार मैनपुरी लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। उनके नामांकन के दौरान भी बीएसपी के नेता मौजूद रहे थे। शुक्रवार को मैनपुरी में ही होने जा रही इस रैली में मुलायम और मायावती के अलावा एसपी के वर्तमान अध्यक्ष अखिलेश यादव और राष्टीय लोकदल अध्यक्ष और गठबंधन सहयोगी चौधरी अजित सिंह भी शामिल हो सकते हैं।  आगे पढ़ें

baroda-modi-on-coalition-in-moradabad-said-sp-bsp-

मुरादाबाद में गठबंधन पर बरसे मोदी, कहा- सपा, बसपा एक दूसरे के गुनाहों को माफ कर एक साथ आईं

मोदी ने कहा, 'अरे बबुआ (अखिलेश यादव), शौचालय की चौकीदारी का महत्व क्या है यह आप नहीं समझ पाएंगे। आपके पास आज विदेशी टाइलों, विदेशी टोटियों वाला टॉइलट है लेकिन उन करोड़ों बहन-बेटियों से पूछों जिनको आपने अंधेरे का इंतजार करने को मजबूर रखा था।' बता दें कि बता दें कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी आवास में तोड़फोड़ के बाद उन पर चौतरफा हमले हुए थे। दरअसल, अखिलेश के द्वारा बंगला खाली किए जाने के बाद जब उसे खोला गया तो आलीशान महल की तर्ज पर दिखने वाला आवास तहस-नहस मिला था। इसके बाद अखिलेश ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी, जिसमें वह टोटी लेकर पहुंचे थे।  आगे पढ़ें

in-the-case-of-bank-balance-mayawatis-party-is-at-

बैंक बैलेंस के मामले में मायावती की पार्टी सबसे आगे, सपा दूसरे स्थान पर

कांग्रेस इस सूची में तीसरे स्थान पर है जिसके पास 196 करोड़ रुपये बैंक बैलंस है। हालांकि, यह जानकारी पिछले साल 2 नवंबर को चुनाव आयोग को दी गई जानकारी पर आधारित है। पार्टी ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में जीत के बाद अपने बैलंस को लेकर ब्यौरा अपडेट नहीं किया है। बीजेपी इस सूची में क्षेत्रीय पार्टियों से भी पिछड़ रही है और टीडीपी के बाद पांचवें स्थान पर है। बीजेपी के पास 82 करोड़ रुपये बैंक बैलंस है, जबकि टीडीपी के पास 107 करोड़ रुपये हैं। बीजेपी का दावा है कि इसने 2017-18 में कमाए गए 1027 करोड़ में से 758 करोड़ खर्च कर दिए जो कि किसी भी पार्टी द्वारा खर्च की गई सबसे अधिक राशि है।  आगे पढ़ें

deoband-rally-ajit-singh-had-to-drop-shoes-to-shar

देवबंद रैली: मायावती के साथ मंच साझा करने के लिए अजित सिंह को उतारने पड़े जूते

पहले चरण के चुनाव से पहले सहारनपुर के देवबंद में हुई महागठबंधन में भी मायावती का ऐसा ही कुछ अंदाज देखने को मिला। यहां माया के प्रोटोकॉल से एक पल को आरएलडी अध्यक्ष अजित सिंह भी हैरान रह गए। दरअसल अजित सिंह ने जैसे ही मायावती और अखिलेश के पीछे-पीछे मंच पर चढ़ना शुरू किया, तभी बीएसपी के एक को-आॅर्डिनेटर ने अजित सिंह से जूते उतारने के लिए कह दिया। उसने आरएलडी अध्यक्ष को बताया कि मायावती को पसंद नहीं है कि मंच पर उनके सामने कोई जूते पहनकर बैठे, सिवाय खुद उनके।  आगे पढ़ें

after-the-publicity-stops-the-sp-bsps-special-300-

प्रचार थमने के बाद अब सपा-बसपा की स्पेशल 300 तैयार, घर-घर जाकर मांगेंगे वोट

गठबंधन की टीम ने तय किया है कि चुनाव प्रचार बंद होने के बाद गठबंधन प्रत्याशी सुरेश बंसल वैश्य समुदाय के वोटरों के साथ संपर्क करेंगे। पार्टी का दावा है कि मुस्लिम, दलित और अन्य समुदाय के बीच अलग-अलग टीमें लगी हैं, जबकि वैश्य समुदाय से जुड़े होने के चलते बंसल और उनकी टीम को शहर के वैश्य वोटरों को रिझाने का काम सौंपा गया है। सूत्र बताते हैं कि तीनों पार्टियों के संगठन से जुड़े नेताओं को अपने-अपने कैडर वोट बैंक सेट करने की जिम्मेदारी दी गई है। इसके लिए सपा को मुस्लिम, गुर्जर और यादव वोट बैंक, जबकि बसपा को दलित समुदाय के कैडर वोटर तक पूर्व सीएम मायावती का संदेश पहुंचाने का काम दिया गया है। वहीं, रालोद की टीम को जाट वोट बैंक को गठबंधन के पक्ष में लाने की जिम्मेदारी दी गई है।  आगे पढ़ें

lok-sabha-elections-mayawati-will-perform-9-rallie

लोकसभा चुनाव: समाजवादी पार्टी के गढ़ में मायावती करेंगी 9 रैलियां

विश्वास है कि उसके वोट एसपी को ट्रांसफर हो जाएंगे लेकिन उसे बदले में यादवों के वोटों की जरूरत है। इसलिए मायावती की रैलियों से एसपी के कोर यादव मतदाताओं को यह संदेश दिया जाएगा कि बीएसपी के प्रत्याशियों को भी उनकी सीटों पर वे समर्थन करें।'  आगे पढ़ें

congress-slams-jhunki-shakti-scindia-says-we-are-r

यूपी में खोई जमीन हालिस करने कांग्रेस ने झोंकी ताकत, सिंधिया बोले- चुनाव के बाद गठबंधन के लिए हम तैयार

कई चुनावी सर्वे में कहा जा रहा है कि अगर कांग्रेस ने एसपी-बीएसपी के साथ अलायंस कर लिया होता तो उसे बीजेपी से मुकाबले में ज्यादा फायदा होता। हमारे सहयोगी टीओआई ने जब सिंधिया से यह जिक्र किया तो उन्होंने जवाब दिया, 'देखिए हमें काल्पनिक सवालों पर बात नहीं करनी चाहिए। सच यह है कि उनकी (एसपी-बीएसपी) तरफ से संवाद की कोई कोशिश नहीं की गई। कोई अच्छी चीज होने से पहले कई खराब बातें भी होती हैं। हमने उनसे बात करने का प्रयास किया लेकिन कुछ वजहों से गठबंधन नहीं हो सका।'  आगे पढ़ें

yogis-minister-questioned-the-sp-bsp-saying-this-a

योगी के मंत्री ने सपा-बसपा पर उठाए सवाल, कहा- यह गठबंधन सांप-नेवले की तरह

मंगलवार को अयोध्या पहुंचे पाठक ने कहा कि अयोध्या की पृष्ठभूमि को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां रैली कर सकते हैं। बीजेपी विकास और राष्ट्र को प्रथम मानते हुए चुनाव लड़ रही है। कांग्रेस की ओर इशारा करते हुए पाठक ने कहा कि राम मंदिर पर लोग तारीखें लगवाकर और मामले को लटकाकर इसके निर्माण में देरी करवा रहे हैं। अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा।  आगे पढ़ें

independent-candidates-who-did-not-succeed-in-voti

मतदाताओं को रिझाने में सफल नहीं हुए निर्दलीय उम्मीदवार, अब तक 45000 में से जीते मात्र 222

आईआईएम लखनऊ में बिजनस इकनॉमिक्स के प्रफेसर कौशिक भट्टाचार्य ने संसदीय चुनावों में निर्दलीय उम्मीदवारों के हश्र पर कई रिसर्च पेपर प्रकाशित किए हैं। वह एक दिलचस्प ट्रेंड की ओर इशारा करते हुए कहते हैं कि 1977 तक के चुनावों को देखें, तो निर्दल 'सबल' नजर आते हैं। मसलन 1952 में 37 उम्मीदवार निर्दल जीतकर संसद पहुंचे थे। 1957 में यह आंकड़ा बढ़कर 42 हो गया और 19.32% वोट निर्दलीयों के खाते में गए। आखिरी बार 1989 में लोकसभा चुनाव में निर्दलीय 12 सीटें जीतकर दो अंकों में पहुंचे थे। 1991 में तो मात्र एक निर्दल जीता था।  आगे पढ़ें

mayawati-pm-candidate-for-lok-sabha-polls-will-not

लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी मायावती, पीएम पद के लिए पेश की दावेदारी

मायावती ने ट्वीट किया, 'जिस प्रकार 1995 में जब मैं पहली बार यूपी की सीएम बनी थी, तब मैं यूपी के किसी भी सदन की सदस्य नहीं थी। ठीक उसी प्रकार केंद्र में भी प्रधानमंत्री या मंत्री को 6 महीने के भीतर लोकसभा या राज्यसभा का सदस्य बनना होता है। इसीलिए अभी मेरे चुनाव नहीं लड़ने के फैसले से लोगों को कतई मायूस नहीं होना चाहिए।' जिस प्रकार 1995 में जब मैं पहली बार यूपी की सीएम बनी थी तब मैं यूपी के किसी भी सदन की सदस्य नहीं थी। ठीक उसी प्रकार केन्द्र में भी पीएम/मंत्री को 6 माह के भीतर लोकसभा/राज्यसभा का सदस्य बनना होता है। इसीलिये अभी मेरे चुनाव नहीं लड़ने के फैसले से लोगों को कतई मायूस नहीं होना चाहिये  आगे पढ़ें

Previous 1 2 3 Next 

प्रमुख खबरें

राज्य

राजनीति